MP Kisan Karjmafi सड़कों पर उतरेंगे -जीतू पटवारी

मप्र में किसान कर्ज माफी को लेकर राजनीति गर्मा गई है । स्वास्थ्य एवं गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा द्वारा किसान कर्ज माफी को सबसे बड़ा घोटाला बताए जाने के बाद कांग्रेस हमलावर हो गई है । प्रदेश कांग्रेस मीडिया से चर्चा में मंत्री मिश्रा पर पलटवार करते हुए कहा कि जो लोग खुद सिर से पैर तक भ्रष्टाचार में डूबे हों , उन्हें दूसरों पर आरोप लगाना शोभा नहीं देता । किसान कर्ज माफी को लेकर भाजपा सरकार कोई भी जांच करा ले , हम तैयार हैं । वे सरकार में बैठे हैं , तथ्य सामने लेकर आएं । पटवारी ने कहा कि व्यापमं , ई – टेंडर और अमानक दवा जैसे घोटाले करने वाले लोग ही ऐसा कह सकते हैं । उन्होंने आरोप लगाया कि कमलनाथ सरकार ने जिन किसानों के कर्ज माफ किए हैं और जिन्हें सर्टिफिकेट दिया गया है , उन किसानों के खाते में ऋण माफ करने की बजाय मप्र सरकार उपार्जन के भुगतान का पैसा ऋण खाते में जमा करके किसानों के साथ धोखेबाजी कर रही है ।

कमलनाथ सरकार ने तीन चरणों में इस कर्ज की माफी की । पहले चरण में लगभग 21 लाख , दूसरे चरण में 4 लाख और तीसरे चरण का कर्ज एक जून से समायोजित किया जाना था , इसका फैसला कैबिनेट ने लिया था । इस फैसले के विरुद्ध धोखे से पीछे के दरवाजे से आई शिवराज सरकार अगर किसानों का कर्ज माफ नहीं करती है तो किसानों के हितों के लिए केवल कांग्रेस सड़कों पर उतरेगी , बल्कि कोर्ट का भी दरवाजा खटखटाएगी ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.