ews minimum cut off marks SSC ने EWS के लिए न्यूनतम पासिंग मार्क्स किये कम परन्तु PEB में नहीं ।

मामला मौजूदा शिक्षक भर्ती में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग ( Ews ) के अभ्यर्थियो के हितों को दरकिनार करने का है ।

Advertisement
ews minimum cut off marks

ews minimum cut off marks एक तरफ केंद्र की मोदी सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों के लिए 103 वें संविधान संशोधन द्वारा 10 % Ews आरक्षण लागू किया ताकि आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों के हितों का संरक्षण हो सके , वही दूसरी ओर प्रदेश की सरकार एवं शिक्षा विभाग ने उच्च माध्यमिक शिक्षक भर्ती में Ews वर्ग के अभ्यर्थियो के साथ भेदभाव करते हुए , ऐसे कई पात्रता मापदंड निर्धारित कर रखे है , जिसके कारण EWS वर्ग के अभ्यर्थियों का चयन ही नही हो पा रहा है

गणित विषय मे कुल 1800 पदों में से 166 पद Ews श्रेणी के लिए आवंटित किए गए जिसमे मात्र 01 ( एक ) अभ्यर्थी का चयन हो सका है , जो कि दिव्यांग वर्ग से न्यूनतम अर्हताकारी अंक में छूट प्राप्त कर चयनित हुआ है । इसी प्रकार भातिकी विषय मे कुल 1001 पदों में से 82 पद EWS श्रेणी के लिए आवंटित किए गए जिसमे मात्र 03 ( तीन ) अभ्यर्थी ही चयनित हो सके । रसायनशास्त्र के कुल 700 पदों में से 59 पद Ews श्रेणी के लिए आवंटित किए गए जिसमे मात्र 02 ( दो ) अभ्यर्थियों का चयन हो सका । अन्य विषयों अंग्रेजी , जीवविज्ञान , कॉमर्स में भी इसी प्रकार की स्थिति है ।

Ews वर्ग के अभ्यर्थियो का कहना है कि शिक्षक भर्ती में अन्य आरक्षित वर्गा ( SC , ST , OBC , Ex- सर्विसमैन , दिव्यांग ) के लिए न्यूनतम पासिंग मार्स 75 है , किन्तु हमारे लिए न्यूनतम पासिंग मार्क्स 90 निर्धारित किये गए है , जबकि हम भी 10 % आरक्षण की परिधि में आते है । यह समता के अधिकार का हनन है । EWS अभ्यर्थियो ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार के आधीन सरकारी नौकरी के पदो पर नियुक्ति हेतु भर्ती परीक्षा आयोजित करने वाली संस्था एस . एस.सी. ( कर्मचारी चयन आयोग ) ने जनवरी 2019 के बाद की सभी भर्ती विज्ञापनों में EWS वर्ग के अभ्यर्थियों को न्यूनतम पासिंग मार्क्स में OBC वर्ग के समान स्ट दे रखा है । किन्तु प्रदेश सरकार EWS अभ्यर्थियों को अन्य आरक्षित वर्गा के समान आरक्षण का लाभ नहीं दे रही , जिसके कारण उच्च माध्यमिक शिक्षक भर्ती में आर्थिक रूप से कमजोर सवर्ण ( EWS ) अभ्यर्थी अपने ही श्रेणी के आरक्षित पदों पर चयनित होने से वंचित हो रहे ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.