बी.एड . रनिंग छात्र -मंत्री जी ने कहा दिखबाता हूं ।

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा उब माध्यमिक और माध्यमिक शिक्षा के लगभग 17 हजार पदों पर भी की प्रक्रिया चल रही है । इसके लिए 22 फरवरी से 22 मार्च 2020 तक दस्तावेज ऑनलाइन अपलोड करने की पका नलाई जाएगी । लेकिन इस पूरी प्रक्रिया में वे लोग शामिल नहीं हो पाएंगे , जिनका अभी भीएड कोर्स पूरा नहीं हुआ । उधर प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड द्वारा कराई गई परीक्षा के समय ऐसे लोगों को शामिल होने का अवसर दिया गया था , जी बीएड नहीं कर पाए थे । तब सरकार ने अनुमति दी कि जो लोग बीएड कर रहे हैं , उन्हें भती परीक्षा में शामिल किया गया । परीक्षा के बाद जया परिणाम आए तो मेरिट सूची अधिकतर उन लोगों के नाम शामिल जिनदा अभी बीएड कोस पूरा नहीं हुआ है । कुछ लोगों को मार्च 2020 में अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा होनी है , जिसका परिणाम जुलाई तक आएगा । लेकिन दिमबर 2019 में स्कूल शिक्षा विभाग की तरफ से जारी विज्ञापन ने मामला ही बदल दिया । इसमें बताया गया कि 30 दिसंबर 2010 तक जिन लोगों का बीएड कोर्स पूरा हो गया , केवल उन्हें काउम्मिलिंग में शामिल होने का अवसर दिया जाएगा । ऐसे हजारों प्रतिभागी शिक्षक बनने से वंचिा रह जाएग । यहशाल तब है जब मप्र में अंग्रेजी के शिक्षकों की कमी है । इस परीक्षा के बाद भी 3358 रिक्ट पदों के लिए भी शिक्षक नहीं मिल पा रहे हैं । ऐसे में यदि बीएड करने वाले प्रतिभागी बाहर होंगे तो बड़ी संख्या में रिक्त रह जाएगे ।

उचित कार्रवाई करेंगे . मेरे सामने इस तरह का मामला नहीं आया है । में पता करवाता हूं , जो भी मसला होगा उस पर उचित कार्रवाई की जाएगी । – डॉ . प्रभुशम चौधरी , स्कूल शिक्षा मंत्री मम शासन

Leave a Comment

Your email address will not be published.