19 हजार पदों पर होगी प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा -आवेदन उम्मीद से कम।

प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ( पीईबी ) अप्रैल के अंतिम सप्ताह में प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा शुरू कर देगा । यह परीक्षा 20 दिन तक आयोजित की जाएगी । परीक्षा के लिए पीईबी ने संभावित कार्यक्रम तैयार कर लिया है । परीक्षा में साढ़े छह लाख उम्मीदवार शामिल होंगे । परीक्षा पीईबी स्कूल शिक्षा विभाग के लिए आयोजित कराने जा रहा है । जो उम्मीदवार इस परीक्षा में सफल हो जाएंगे वे स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षकों की नियुक्ति देने के लिए आयोजित की जाने वाली काउंसिलिंग में शामिल हो सकेंगे । पीईबी ने प्राथमिक शिक्षक भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे । पीईबी को उम्मीद थी कि इस परीक्षा में शामिल होने के लिए करीब पंद्रह लाख आवेदन आएंगे लेकिन पिछली शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफल उम्मीदवारों को नौकरी नहीं मिलने से इस परीक्षा से उम्मीदवारों का रुझान घटा है । परीक्षा पूरी तरह ऑनलाइन की जाएगी । इस मामले में पीईबी के प्रवक्ता जेपी गुप्ता का कहना है मिले आवेदनों के आधार पर परीक्षा कार्यक्रम तैयार कर लिया गया है । जल्द ही इसे आधिकारिक तौर पर जारी कर दिया जाएगा

लोक शिक्षण संचालनालय डीपीआई ) के सामने शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थियों का विरोध प्रदर्शन दूसरे दिन भी जारी रहा । पात्र अभ्यर्थियों का आरोप है कि स्थाई शिक्षक भर्ती में शिक्षा अधिकार अधिनियमाआरटीई ) नियमों की अवहेलना की जा रही है . इससे हजारों पात्र अभ्यर्थी शिक्षक भर्ती की काउंसिलिंग प्रक्रिया में शामिल होने से वंचित हो गए । मंगलवार को पात्र अभ्यर्थियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने मंत्रालयजाकर स्कूल शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी से मिलकरज्ञापन सौंपा । इसमें प्रमुख रूप से रिक्त पदों में वृद्धि कर स्थाई शिक्षक भर्ती करने की मांग की गई है । ज्ञात हो कि स्कूल शिक्षा विभागद्वारा 20 , 670 पदों पर उच्च माध्यमिक शिक्षक और माध्यमिक शिक्षक के पदों पर नियुक्ति की जा रही है ।

The Professional Examination Board (PEB) will start the Primary Teacher Eligibility Test in the last week of April. This exam will be held for 20 days. PEB has prepared a possible schedule for the exam. Six and a half lakh candidates will appear in the examination. The exam is going to be conducted for PEB School Education Department. The candidates who will succeed in this examination will be able to attend the counseling organized by the School Education Department for the appointment of teachers. PEB invited applications for the Primary Teacher Recruitment Examination. The PEB was expecting about fifteen lakh applications to appear in this examination, but the trend of candidates has decreased due to successful candidates not getting jobs in the previous teacher eligibility test. The exam will be done completely online. In this case, PEB spokesman JP Gupta says that the examination schedule has been prepared based on the applications received. It will be officially released soon.

The protests of the candidates who passed the teacher eligibility test in front of Public Instructions Directorate (DPI) continued for the second day. Eligible candidates allege that the Right to Education Act is being disregarded in permanent teacher recruitment. Due to this, thousands of eligible candidates were denied involvement in the counseling process of teacher recruitment. On Tuesday, a delegation of eligible candidates met the Ministry and handed over the advertisement to Rashmi Arun Shami, Principal Secretary, School Education Department. There has been a demand to recruit permanent teachers mainly by increasing the vacancies. It may be noted that 20, 670 posts are being appointed by the School Education Department for the posts of Higher Secondary Teacher and Secondary Teacher.

Leave a Comment

Your email address will not be published.